• Sunday, June 14, 2020

    मोटापे से कैसे निपटा जाए? कारण और उपाय हिंदी में

    जो लोग मोटे हैं वह जानना चाहते हैं की मोटापे से कैसे निपटा जाए? कारण और उपाय आज की पोस्ट केवल उनके लिए है हो मोटापे से परेशान हैं. आज में आपको बढ़ा हुआ पेट या मोटापा कम करने के उपाय और तरीके  क्या-क्या हैं तथा मोटापा कम करने के लिए क्या करना चाहिए, वजन कम करने का तरीका क्या है और कैसे और मोटापे के कारण होने वाले 10 नुकसान या बीमारियां के बारे में बहुत ही इम्पोर्टेंट जानकारी देने वाला हूँ, इसलिए पोस्ट के साथ जुड़े रहें.

    motape-se-kaise-nipta-jaaye-karan-aur-upay

    आज की इस पोस्ट में आपको वजन कम करने के आसान उपाय बताये जांएगे. हम सभी बहुत अच्छे से जानते हैं कि मोटापा कोई छोटी मोटी समस्या नहीं बल्कि एक भयानक बीमारी बन चुकी है. यह एक ऐसी बीमारी है जिसको एक बाल लग जाए तो उसे छोड़ती नहीं है. इंसान मोटा तो आसानी से हो जाता है पर दोबारा उसी शेप में आना नामुनकिन हो जाता है. लोग पतले होने के लिए लाखों रुपये खर्च कर देते हैं, कीमती समय गवा देते हैं, पर फिर भी निराश हो जाते हैं. कोई कोई तो इतना परेशान हो जाता है कि ढंग से चल भी नहीं पाता है. यदि आप पोस्ट पूरा पढ़ेंगे तो बहुत फायदा होगा.


    आप यकीन नहीं करेंगे किसी किसी की जान तक ले चूका है मोटापा और कुछ लोग मोटापे की वजह से आत्महत्या भी कर लेते हैं. सही भाषा में कहें तो मोटापा एक जानलेवा बीमारी है जिससे निजाद पाना बहुत जरूरी है. यह बिलकुल सही बात है की यदि इसका जल्दी उपाय न किया जाए तो ये जान भी ले सकता है. मोटे लोगों का मजाक हर कोई उड़ता है, ये सभी को पता है, क्योंकि हमने भी कभी न कभी तो किसी मोठे का मजाक उड़ाया ही होगा.


    इन्ही समस्याओं को ध्यान में रखते हुए आज ये पोस्ट लिख रहा हूँ जिसमे आप बढ़ा हुआ पेट या मोटापा कम करने के उपाय और तरीके  क्या-क्या हैं तथा मोटापे से कैसे निपटा जाए? कारण और उपाय इन सभी के बारे में जानेंगे विस्तार से.


    मोटापा क्या है

    मोटापा क्या होता है? ये तो हर बच्चा, बूढ़ा और जवान लगभग सभी को पता है. पेट की चर्बी का अनावश्यक रूप से बढ़ना ही मोटापा कहलाता है. ये एक इस तरह की बीमारी है जो किसी भी आदमी-औरत को हो सकती है. ये समस्या उन लोगों को नहीं होती है जो पर्याप्त मेहनत करते हैं, जिम करते हैं या किसानी करते हैं, हर सुबह दौड़ते हैं. ऐसे लोगों को मोटापा छू भी नहीं पाता है. मेहनत करने से शरीर की कैलोरी कम होती रहती है.


    यदि इसका उल्टा कर दें, तो ऐसे लोग जो बिलकुल भी चलते फिरते नहीं हैं या न के बराबर मेहनत करते हैं और एक ही जगह पर बैठे रहते हैं, जैसे किसी ऑफिस में काम करना, किसी दूकान पर लगातार बैठे रहना आदि, उनको ये बीमारी बिन बुलाये आ जाती है. इसी कारण बजन बढ़ता जाता है और फैट जमा होता जाता है, इसी को मोटापा कहते हैं. इसकी एक खासियत होती है कि इससे केवल चर्बी ही बढती है न की शरीर का कोई और भाग, जैसे हड्डी, मांस आदि


    मोटापे के कारण होने वाले 10 नुकसान या बीमारियां

    यदि हम नॉर्मल हैं तो कोई बात नहीं होती है, पर यदि हम मोठे हो चुके हैं तो इसके कारण कई तरह की बीमारियां भी हो सकती हैं. और सबसे बड़ी बात मोटे लोगों को पता भी नहीं चलता है को वो लगातार बीमारियों से घिरते जा रहे हैं. इसी कारण यदि आपका वजन ज्यादा हो चूका है तो नियमित रूप से चेकअप करवाते रहना चाहिए ताकि कोई बीमारी नुकसान न पहुंचा सके. मोटापे के कारण होने वाले 10 नुकसान या बीमारियां निम्नलिखित हैं –


    • यदि मोटापा है तो शरीर में जितने भी जोड होते हैं सब में दर्द रहने लगता है.
    • इसके कारण डायबिटीज जैसी खतरनाक बीमारी होने की ज्यादा सम्भावना होती है.
    • वैज्ञानिक रिसर्च के मुताबिक मोटापे के कारण आँतों में कैंसर भी हो सकता है. औरतों में गर्भाशय का कैंसर होने के ज्यादा चांस होते हैं.
    • मोटापे के कारण टेंशन यानी तनाव भी बढ़ने लगता है जिससे डिप्रेशन में भी जा सकते हैं.
    • सबसे बड़ा खतरा ये भी होता है कि मोटे लोग सामान्य लोगों की तुलना में कम जीवन जी पाते हैं, क्योंकि मोटापे से कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाता है.
    • आप सब ने देखा होगा कि मोटे लोगों को हार्टअटेक ज्यादा होता है जो की बहुत बड़ी गंभीर समस्या होती है.
    • मोटापे की वजह से हमारे शरीर की नसों में खून का संचार सही ढंग से नहीं हो पाता है जिससे नसें चोक(Block) भी हो सकती हैं.
    • इसी के कारण शरीर की कोशिकाओं पर ज्यादा दबाव पड़ता है जिसके कारण आँतों में भी समस्या हो सकती है.
    • इसके कारण Hypertension यानी उच्च रक्त चाप की समस्या भी हो जाती है जिसके कारण किडनी फेल या हार्टअटेक भी हो सकता है.
    • मोटापा सबसे बड़ी बीमारी तब बन जाता है जब आपको कोई मोटा कहकर चिढ़ाता है. जिसके कारण बेइज्जती महसूस होने लगती है. कई लोग तो मोटापा की वजह से अकेले रहने लगते है और डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं.


    कैसे और क्यों होता है मोटापा?

    • यदि आपकी पियूष ग्रंथि और थायराइड ग्रंथि ठीक से काम नहीं करती है तो मोटापा बढ़ने लगता है. ये सबसे बड़ा कारण होता है मोटे होने का. पियूष ग्रंथि हमारे मस्तक के ठीक बीच में होती है जंहा पर औरतें बिंदी और हम टीका लगाते हैं और थायरिङ ग्रंथि हमारे ठीक कंठ के पीछे होती है

    हमारे शरीर का विकशा सही ढंग से तब होता है जब हमारी पियूष ग्रंथि ठीक तरह से काम करे. यदि पियूष ग्रंथि ठीक से काम करती है तो मोटापा हमें छू भी नहीं सकता है. यदि पियूष ग्रंथि स्वथ्य है तो कोई बीमारी भी नहीं हो सकती है.

    ठीक उसी तरह से यदि थायराइड ग्रंथि बिलकुल सही है तो पाचन क्रिया सही रहती है जिससे पाचक रस में बढ़ोतरी होती है. कुल मिलाकर शरीर की सभी रासायनिक क्रियाएं सही ढंग से होती हैं यही इस ग्रंथि का काम है.

    • मोटापा का होना अनुवांशिकता भी होती है. यदि आपके माता-पिता या दादा-दादी उनके माता-पिता या दादा-दादी भी मोटे हैं तो आप भी मोटे होंगे.

    • जरूरत से ज्यादा और उल्टा सीधा खाना भी मोटापे का कारण है.

    • लगातार मीठी चीजें खाने से भी ये रोग लगता है.

    • खचचे भोजन को छोड़कर टेलिए भोजन अधिक मात्रा में करना.

    • एक जगह रोज और लगातार बैठने से भी लोग मोटे हो जाते हैं.

    • कसरत और बिलकुल परिश्रम न करना.

    • रात में लेट सोना और सुबह देर से उठना तथा दिन में भी जायदा सोना.

    • जो लोग भोजन करते-करते पानी पीते हैं तथा खाने के बाद अधिक पानी पीते हैं ऐसे लोग मोटे होने लगते हैं. और भी कई कारण हैं पर इन कारणों से लोग जल्दो मोटे होते हैं.

    No comments:

    Post a Comment

    My Blog List

    हेल्थ और हेयर ट्रांसप्लांट